Security of the library

पुस्तकालय सगंह के वार्ड और निगरानी उसके प्रबंÄन के महत्वपूर्ण कार्यो में से एक है! रामपुर रज़ा पुस्तकालय की सुरक्षा केन्द्रीय औधोगिक सुरक्षा बल (सी.आइ.सी.एफ.) के अन्र्तगत 26 कर्मियों को सौंप दी गयी है! जो पुस्तकाय परिसर में निरन्तर सीमा के साथ, 24 सो धंटे जाग कर पहरा देते है! हामिद मजि़ल, दुर्लभ संग्रह और अनमोल कला की वस्तुओं के गृह की सभी खडिकियों और दरवाजों को लोहे की गि्रल लगवायी गयी है! सभी पाठकों, आगुन्तकों और विद्वानों को एक मेटल डिटेक्टर गेट के माघ्यम से पुस्तकालय में प्रवेश मिलता है! पाठकों, दर्शकों और विद्वानों को एक सुरक्षा जाँच के बाद और सी.आइ.एस.एफ. कर्मियों की हिरासत में स्वागत कक्ष में रखे रजिस्टर में उनके नाम और पते लिखने के बाद, मुख्य भवन में पढ़ने के कमरे में प्रवेश कर सकते है! आगुन्तकों को एक पहचान पर्ची जारी की जाती है जो कि वे पुस्तकालय से वापस जाते समय लौटा दते है!

बैग केस और पालीथीन को पुस्तकालय के अन्दर ले जाने की अनुमति नही है आलावा मोबाइल और कैमरे की भी आज्ञा नही है! पुरा पुस्तकालय सी.सी.टी.वी. से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है और सुरक्षा कर्मी इसे 24 सो धंटे जाँचते है अन्य सुरक्षा उपायों को भी लागूकिया जा सकता है! पुस्तकालय के समद्ध संग्रह की आग से रक्षा के लिए रज़ा पुस्तकालय की मुख्य इमारत में आग संरक्षण प्रणाली है!

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 


   
Academic Activities
 
 
Online Photo Gallery